Wednesday, June 19, 2024
Positive outlook on the economy

Latest Posts

महासमुंद : तीन दिवसीय सिरपुर महोत्सव 24 फरवरी से, तैयारी शुरू

तैयारी शुरू

कलेक्टर श्री प्रभात मलिक ने लिया तैयारियों का जायजा

सांस्कृतिक कार्यक्रम से सराबोर होगा आयोजन

विभागीय स्टॉल भी लगाए जायेंगे

महासमुंद, 15 फरवरी 2024

ऐतिहासिक एवं पुरातात्विक नगरी सिरपुर में आयोजित होने वाले तीन दिवसीय सिरपुर महोत्सव का आयोजन इस बार भी माघ पूर्णिमा 24 फरवरी से 26 फरवरी तक भव्य तरीके से होगा। कलेक्टर श्री प्रभात मलिक ने आज सिरपुर स्थल पहुँच कर सिरपुर महोत्सव के आयोजन के लिए की जा रही तैयारियों का निरीक्षण किया। उन्होंने सिरपुर अंतर्गत विभिन्न स्थलों का मुआयना करते हुए सुव्यवस्थित आयोजन के लिए अधिकारियों को निर्देश दिए। कलेक्टर श्री मलिक ने कहा कि तीन दिवसीय सिरपुर महोत्सव में साफ-सफाई, पार्किंग, शौचालय, पेयजल आदि की चाक चौबंध व्यवस्था की जाएगी। उन्होंने मुख्य मंच तक पहुंचने के लिए पर्याप्त जगह छोड़ने तथा व्यवस्थित बाजार व्यवस्था बनाने के निर्देश दिए। कलेक्टर ने स्पष्ट किया कि महोत्सव के दौरान सिरपुर सहित स्थानीय व्यवसायियों को दुकान आबंटन के लिए प्राथमिकता दी जाएगी।

इस महोत्सव में स्थानीय एवं छत्तीसगढ़ी स्तरीय सांस्कृतिक कार्यक्रमों की छटा बिखरेगी। इसके लिए प्रदेश के ख्याति प्राप्त लोक कला मंचों से सम्पर्क करने के निर्देश दिए गए। शाम 04:00 से 06:00 बजे तक स्थानीय लोक कलाकारों को अवसर दिया जाएगा। कलेक्टर श्री प्रभात मलिक ने विभिन्न स्थलों का जायजा लेते हुए कहा कि मुख्य मंच को आकर्षक रूप दिया जाएगा। व्यवस्थित ढंग से दुकानों का आबंटन किया जाए। मेला परिसर में साफ-सफाई की समुचित व्यवस्था के लिए नगरपालिका अधिकारी को जिम्मेदारी दी गई है। उन्होंने कहा कि महोत्सव के दौरान प्रत्येक दिन साफ-सफाई सुनिश्चित हो एवं कचरा का उठाव भी नियमित रूप से होता रहे। उन्हेंने सड़कों में लगे स्ट्रीट लाईट में लाईटिंग करने के निर्देश दिए हैं। महोत्सव परिसर के अंतर्गत सड़कों का मरम्मत करने कहा गया। इस मौके पर एसडीएम महासमुंद श्री उमेश साहू, जनपद सीईओ श्रीमती मिषा कोसले, लोकनिर्माण, पीएचई, वन, पुलिस प्रशासन सहित तहसीलदार, नायब तहसीलदार सहित विभिन्न विभागों के ज़िला स्तरीय अधिकारी उपस्थित थे।

इस दौरान कलेक्टर ने कहा कि कार्यक्रम स्थल के लिए ले-आउट शुक्रवार शाम को तैयार कर लिया जाए। यहां पर आने-जाने के लिए मार्ग पर्याप्त रूप से चौड़ा होना चाहिए, जिससे आवागमन में असुविधा न हो। कार्यक्रम स्थल पर विभिन्न सुविधाओं की देखरेख के लिए एक नियंत्रण कक्ष स्थापित किया जाए, कार्यक्रम स्थल पर फायर ब्रिगेड, पेयजल टैंक, साफ-सफाई की व्यवस्था की जाए। उन्होंने पेयजल टैंकर का क्लोरीनेशन करने और ग्रामीणों को सस्ते भोजन की व्यवस्था के लिए दाल-भात केंद्र भी लगाने के निर्देश भी दिए।

Latest Posts

spot_imgspot_img

Don't Miss

Stay in touch

To be updated with all the latest news, offers and special announcements.