Wednesday, June 19, 2024
Positive outlook on the economy

Latest Posts

इलेक्ट्रॉनिक्स और आईटी मंत्रालय गुरुवार को गुवाहाटी में प्रथम डिजिटल इंडिया फ्यूचरस्किल्स शिखर सम्मेलन आयोजित करेगा

केंद्रीय मंत्री राजीव चंद्रशेखर डिजिटल इंडिया फ्यूचरस्किल्स शिखर सम्मेलन 2024 का उद्घाटन करेंगे

शिखर सम्मेलन में भारत की सर्वश्रेष्ठ और प्रतिभाशाली मेधाओं के उज्ज्वल भविष्य के लिए रणनीतियों पर विचार-विमर्श होगा

सम्मेलन में शीर्ष उद्योगपति और शिक्षाविदों सहित 1,000 से अधिक अतिथि भाग लेंगे

भविष्य के कौशल क्षेत्र में 20 से अधिक रणनीतिक सहयोग किए जाएंगे

प्रविष्टि तिथि: 14 FEB 2024

इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय (एईआईटीवाय), राष्ट्रीय इलेक्ट्रॉनिकी एवं सूचना प्रौद्योगिकी संस्थान (एनआईईएलआईटी) के माध्यम से 15 फरवरी, 2024 को गुवाहाटी में प्रथम भविष्य कौशल शिखर सम्मेलन की मेजबानी कर रहा है। केंद्रीय इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी (आईटी), कौशल विकास और उद्यमिता और जल शक्ति राज्य मंत्री, श्री राजीव चंद्रशेखर युवा भारतीयों, विचारकों, उद्योग विशेषज्ञों, नीति निर्माताओं, शिक्षकों और प्रौद्योगिकी विशेषज्ञों और अन्य गणमान्य लागों के साथ इस शिखर सम्मेलन का उद्घाटन करेंगे। सम्मेलन के दौरान भारत और विश्व के लिए भविष्य के लिए विशिष्ट प्रतिभाओं को उन्नति के अवसर प्रदान किए जाने की रणनीतियों पर विचार-विमर्श करेंगे।

सम्मेलन के दौरान वैश्विक डिजीटलीकरण के बढ़ते प्रभाव पर परिचर्चा होंगी, जिनमें युवा भारतीयों के लिए आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस, मशीन लर्निंग, सेमीकंडक्टर, रोबोटिक्स, साइबर सुरक्षा जैसी अत्याधुनिक प्रौद्योगिकियों में नए अवसरों पर विचार-विमर्श होगा। ये प्रौद्योगिकियां युवा भारतीयों के लिए कई अवसर प्रदान कर रही हैं।

यह मानते हुए कि कौशल विकास, समृद्धि का पासपोर्ट है, यह शिखर सम्मेलन हमारे माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के लक्ष्यों के अनुरूप एक रोडमैप के लिए तैयार है। इसका उद्देश्य उभरती प्रौद्योगिकियों द्वारा भारत को एक वैश्विक प्रतिभा केंद्र में बदलना और उत्पन्न अवसरों से लाभान्वित होना है।

इस महत्वपूर्ण सम्मेलन का उद्देश्य देश भर में उद्योग और शैक्षणिक संस्थानों के साथ कई साझेदारियां बनाना भी है, ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि पाठ्यक्रम उद्योग की मांगों और मानकों के साथ मेल खाता हो। इस उद्देश्य के अनुरूप, शिखर सम्मेलन में राष्ट्रीय इलेक्ट्रॉनिकी एवं सूचना प्रौद्योगिकी संस्थान (एनआईईएलआईटी) और इंटेल, एचसीएल, माइक्रोसॉफ्ट किंड्रल, आईआईएम रायपुर, आईआईआईटीएम ग्वालियर, विप्रो और अन्य के बीच 20 से अधिक रणनीतिक सहयोग होंगे।

सम्मेलन में 1000 से अधिक गणमान्य लोग और 30 से अधिक नवोन्मेषी प्रदर्शनियाँ शामिल होंगी। शिखर सम्मेलन के प्रमुख वक्ता है – एएमडी इंडिया की प्रमुख सुश्री जया जगदीश, सीमेंस ईडीए के कंट्री मैनेजर और उपाध्यक्ष श्री रुचिर दीक्षित और किंड्रिल इंडिया के अध्यक्ष श्री लिंगराजू सावकर, ज्ञानी. एआई (Gnani.AI)के मुख्य कार्यकारी अधिकारी और सह-संस्थापक श्री गणेश गोपालन, आईआईटी बॉम्बे के निदेशक, प्रोफेसर श्री सुभासिस चौधरी, इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय के आर्थिक सलाहकार श्री कुंतल सेनसरमा और राष्ट्रीय इलेक्ट्रॉनिकी एवं सूचना प्रौद्योगिकी संस्थान के महानिदेशक डॉ. एमएम त्रिपाठी।

शिखर सम्मेलन में निम्नलिखित विषयों पर चार-पैनल चर्चाएँ होंगी:

  1. सेमीकॉन इंडिया #फ्यूचरस्किल्स

पैनलिस्ट: डॉ. एस. वैद्यसुब्रमण्यम, वीसी, शास्त्र यूनिवर्सिटी, डॉ. कैरेल स्टर्क्स, निदेशक, बीयूसीआरओसीसीएस, बैंकॉक यूनिवर्सिटी, श्री अलेक्जेंडर ड्रोज़्डोव, सीईओ, ऑप्टिमाइज़िंग टेक्नोलॉजीज, रूस, रुचिर दीक्षित, कंट्री हेड, सीमेंस ईडीए, प्रोफेसर शिव राम कृष्ण वंजारी, आईआईटी हैदराबाद।

मॉडरेटर: श्री सुमित गोस्वामी, वरिष्ठ निदेशक इंजीनियरिंग, क्वालकॉम।

  1. इंडियाएआई #फ्यूचरस्किल्स

पैनलिस्ट: श्री अमिताभ नाग, सीईओ, भाषिनी डिजिटल इंडिया, श्री गणेश महाबाला, निदेशक-रणनीतिक व्यवसाय, दक्षिण एशिया, एनवीआईडीआईए, श्रीमती शिवशंकर, कॉर्पोरेट उपाध्यक्ष और प्रमुख हेड एडटेक बिजनेस, एचसीएल टेक्नोलॉजीज, डॉ. मारियाग्राज़िया स्क्विकिआरिनी, निदेशक एआई और कार्यकारी कार्यालय, सामाजिक और मानव विज्ञान, यूनेस्को, श्री अनुज जैन, प्रबंध निदेशक, एक्सेंचर, श्री श्रीराम राघवन, उपाध्यक्ष, आईबीएम रिसर्च एआई।

मॉडरेटर: सुश्री श्वेता खुराना, वरिष्ठ निदेशक एपीजे – सरकारी भागीदारी और पहल, ग्लोबल गवर्नमेंट अफेयर्स ग्रुप, इंटेल

  1. #भविष्य के कौशल के लिए साइबर सुरक्षा और उभरती प्रौद्योगिकियां

पैनलिस्ट: श्रीहसित जी. त्रिवेदी, सीटीओ – डिजिटल टेक्नोलॉजीज और ग्लोबल हेड – एआई, टेक महिंद्रा, डॉ. मणि मधुकर, प्रोग्राम लीड, आईबीएम स्किल्सबिल्ड, श्री राहुल दत्ता, कंट्री डायरेक्टर मार्केटिंग, माइक्रोसॉफ्ट इंडिया, प्रोफेसर राजीव आहूजा, निदेशक, आईआईटी रोपड़/गुवाहाटी, श्री अमिताव गुहा ठाकुरता, लीडर, सिस्टम इंजीनियरिंग, सिस्को, श्री मनीष कुमार, संस्थापक और सीईओ, रियलएक्स और ग्रेक्स।

मॉडरेटर: श्री. विनायक गोडसे, सीईओ, डीएससीआई

  1. डिजिटल #भविष्य कौशल – वैश्विक कार्यबल के लिए भारतीय-प्रतिभा

पैनलिस्ट: डॉ. डेनिस हू, अध्यक्ष, फाउंडेशन फॉर कॉमर्स एंड कल्चर इंटरचेंज (एफसीसीआई), ताइवान, श्री अरविंद शेट्टी, वीपी ग्लोबल डेवलपमेंट एंड इंजीनियरिंग, किंड्रिल, डॉ. सीवीएस किरण, वीपी, आर एंड डी और स्ट्रैटेजिक इनिशिएटिव्स, स्काईरूट एयरोस्पेस, श्री विक्रम शाह, चीफ टेक्नोलॉजी आफिसर, इंटर्नशाला और श्री अभिषेक शर्मा, संस्थापक, यूनिकस टेक्नोलॉजीज।

मॉडरेटर: श्री अनुराग मजूमदार, सह-संस्थापक, द लॉजिकल इंडियन

राष्ट्रीय इलेक्ट्रॉनिकी एवं सूचना प्रौद्योगिकी संस्थान (एनआईईएलआईटी) के महानिदेशक डॉ. एमएम त्रिपाठी ने डिजिटल भविष्य की चुनौतियों और अवसरों के लिए तैयार कुशल कार्यबल के विकास और उन्नति के लिए संगठन की दृढ़ प्रतिबद्धता व्यक्त की हैं।

Latest Posts

spot_imgspot_img

Don't Miss

Stay in touch

To be updated with all the latest news, offers and special announcements.