Thursday, June 20, 2024
Positive outlook on the economy

Latest Posts

केंद्रीय मंत्री श्री गिरिराज सिंह ने आज बिहार के बेगूसराय जिले की ग्राम पंचायतों में पीएम-वाणी सेवा का विस्तार करने के लिए पायलट प्रोजेक्ट ‘स्मार्ट ग्राम पंचायत: ग्राम पंचायत के डिजिटलीकरण की दिशा में क्रांति’ लॉन्च किया

प्रविष्टि तिथि: 13 FEB 2024 

केंद्रीय ग्रामीण विकास और पंचायती राज मंत्री श्री गिरिराज सिंह ने आज बेगूसराय जिले के बरौनी ब्लॉक के पपरौर ग्राम पंचायत में एक ऐतिहासिक पहल ‘स्मार्ट ग्राम पंचायत: ग्राम पंचायत के डिजिटलीकरण की दिशा में क्रांति’ का उद्घाटन किया। यह पहल ग्रामीण भारत में डिजिटल सशक्तिकरण की दिशा में एक महत्वपूर्ण छलांग का संकेत देती है। ‘स्मार्ट ग्राम पंचायत: ग्राम पंचायत के डिजिटलीकरण की दिशा में क्रांति’ नामक यह पायलट प्रोजेक्ट बिहार के बेगूसराय जिले की सभी ग्राम पंचायतों में पीएम-वाणी (प्रधानमंत्री की वाई-फाई एक्सेस नेटवर्क इंटरफेस) सेवा का विस्तार करने के उद्देश्य से लॉन्च किया गया। बेगूसराय अब पीएम-वाणी योजना के तहत सभी ग्राम पंचायतों को वाई-फाई सेवाओं से लैस करने वाला बिहार का पहला जिला बन गया है।

इस अवसर पर श्री गिरिराज सिंह ने कहा कि ग्रामीण समुदायों की भलाई और विकास के लिए प्रौद्योगिकी का लाभ उठाना महत्त्वपूर्ण है। उन्होंने प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में केंद्र सरकार द्वारा डिजिटल पहलों के माध्यम से ग्रामीण क्षेत्रों को सशक्त बनाने के उद्देश्य से शुरू की गई विभिन्न योजनाओं पर प्रकाश डाला।

श्री सिंह ने पंचायत प्रतिनिधियों और पदाधिकारियों को ग्राम पंचायतों के सशक्तिकरण, विकास और समग्र विकास के लिए प्रौद्योगिकी को अपनाने की आवश्यकता पर बल दिया। उन्होंने सभी उम्र या पृष्ठभूमि के लोगों से प्रौद्योगिकी को अपने जीवन के अभिन्न अंग के रूप में अपनाने का आग्रह किया और इसके परिवर्तनकारी प्रभाव पर प्रकाश डाला।

ग्राम पंचायतों में वाई-फाई सेवाओं के लॉन्च किये जाने के साथ सरकार द्वारा परिकल्पित सकारात्मक परिवर्तन ग्रामीण जीवन के विभिन्न पहलुओं में दिखेगा। केंद्रीय मंत्री श्री सिंह ने 3 करोड़ महिलाओं को ‘लखपति दीदी’ बनाने के महत्वाकांक्षी लक्ष्य सहित समावेशी विकास और सशक्तिकरण सुनिश्चित करने के लिए सरकार की प्रतिबद्धता की पुष्टि की।

श्री गिरिराज सिंह ने स्थानीय निवासियों और पंचायत प्रतिनिधियों से कहा कि वे प्रौद्योगिकी के उपयोग के साथ अपने गांवों के सर्वांगीण विकास की दिशा में एकजुट होकर काम करें। उन्होंने गांवों को धीरे-धीरे स्मार्ट पंचायतें और स्मार्ट समुदाय बनाने की दिशा में प्रौद्योगिकी की परिवर्तनकारी शक्ति पर प्रकाश डाला। श्री सिंह ने इस बात पर भी बल दिया कि प्रौद्योगिकी में गांवों को क्रमिक रूप से स्मार्ट बनाने की क्षमता है। उन्होंने ग्रामीण क्षेत्रों की उभरती आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए प्रौद्योगिकी-संचालित समाधान अपनाने के महत्व को रेखांकित किया। उन्होंने देश के ग्रामीण क्षेत्रों के समग्र विकास में प्रौद्योगिकी का लाभ उठाने के लिए रणनीतिक कार्यान्वयन और निरंतर प्रयासों की आवश्यकता पर बल दिया।

केंद्रीय मंत्री ने यूजर अनुकूल और निर्बाध वाई-फाई सेवाओं की परिवर्तनकारी क्षमता, विशेष रूप से महिला स्वयं सहायता समूहों के सदस्यों, आजीविका दीदियों, बैंकिंग कॉरेस्पोंडेंट (बीसी) सखी, किसानों और विद्यार्थियों सहित ग्रामीण समाज के विभिन्न वर्गों के लिए उनके लाभों पर प्रकाश डाला। उन्होंने कहा कि विकसित भारत के विकास में उनकी महत्वपूर्ण भूमिका है।

श्री गिरिराज सिंह ने इस बात पर बल दिया कि ग्रामीण क्षेत्रों में वाई-फाई सेवाओं की पहुंच नए क्षेत्रों में विकास को बढ़ावा देगी और वर्तमान क्षेत्रों में उल्लेखनीय वृद्धि करेगी। उन्होंने डिजिटल इंडिया को बढ़ावा देने और आत्मनिर्भर भारत के विजन को मजबूत करने के उद्देश्य से निर्बाध इंटरनेट कनेक्टिविटी प्रदान करने वाली पीएम-वाणी योजना को क्रांतिकारी बताया।

श्री गिरिराज सिंह ने सर्वव्यापी इंटरनेट कनेक्टिविटी से सुगम सामाजिक-आर्थिक परिवर्तन की आशा व्यक्त करते हुए कहा, “वाई-फाई सेवाओं का प्रारंभ निस्संदेह ग्रामीण क्षेत्रों में विभिन्न क्षेत्रों को जबरदस्त बढ़ावा देगा।” ‘स्मार्ट ग्राम पंचायत: ग्राम पंचायत के डिजिटलीकरण की दिशा में क्रांति’ नामक पायलट प्रोजेक्ट का उद्घाटन ग्रामीण भारत में डिजिटल खाई को पाटने तथा सामाजिक-आर्थिक विकास को बढ़ावा देने के लिए सरकार के समर्पण का प्रमाण है।

बेगूसराय जिले के बरौनी ब्लॉक के अंतर्गत पपरौर ग्राम पंचायत में आयोजित कार्यक्रम के उद्घाटन समारोह में स्थानीय निवासियों, पंचायत प्रतिनिधियों, महिला स्वयं सहायता समूहों के सदस्यों, ग्राम संगठनों और क्लस्टर स्तरीय संघों की उत्साहपूर्ण भागीदारी देखी गई। इसमें पंचायती राज मंत्रालय, दूरसंचार विभाग, राज्य पंचायती राज विभाग, जिला प्रशासन, जिला पंचायत के अधिकारी और पंचायती राज संस्थानों के प्रतिनिधि भी शामिल हुए।

पीएम-वाणी (प्रधानमंत्री वाई-फाई एक्सेस नेटवर्क इंटरफेस) योजना के अंतर्गत सार्वजनिक वाई-फाई हॉटस्पॉट के माध्यम से निर्बाध और विश्वसनीय वाई-फाई इंटरनेट सेवाओं तक पहुंच के साथ ग्राम पंचायतें विभिन्न विकासात्मक पहलों को सुविधाजनक बना सकती हैं और शिक्षा, स्वास्थ्य सेवा, कृषि, ई-गवर्नेंस, कौशल विकास और आर्थिक अवसर जैसे कई तरीकों से अपने समुदायों को सशक्त बना सकती हैं। डिजिटल खाई को पाटने तथा समावेशी विकास को प्रोत्साहित करने में ग्राम पंचायतें महत्वपूर्ण भूमिका निभाती हैं और एक विश्वसनीय वाई-फाई इंटरनेट सेवा अनकनेक्टेड लोगों को जोड़ने के इस जिम्मेदार और तेज़ तरीके का उपयोग करके ग्राम पंचायतों में सामाजिक-आर्थिक विकास के लिए एक उत्प्रेरक है। पंचायती राज मंत्रालय ने निर्बाध कनेक्टिविटी सुनिश्चित करके ग्राम पंचायतों को विकसित भारत के विजन में सार्थक योगदान में सशक्त बनाने के लिए महत्वपूर्ण कदम उठाया है, जहां प्रत्येक व्यक्ति को डिजिटल युग में विकास और समृद्धि के अवसरों तक पहुंच प्राप्त है।

Latest Posts

spot_imgspot_img

Don't Miss

Stay in touch

To be updated with all the latest news, offers and special announcements.